Aadhar Card Latest News There’s no need to see ghosts in linking your mobile with Aadhaar

UIDAI ने ऑनलाइन आधार करेक्शन को बंद किया |

UIDAI ने अपने कुछ नियमों में खास बदलाव किए हैं अपने आधार डिटेल्स अपडेशन को लेकर यूआईडीएआई ने फैसला लिया है कि वह अपने ऑनलाइन आधार अपडेट करेक्शन को बंद करेगा ऑनलाइन आधार करेक्शन में होने वाली धांधली के चलते हुए यूआईडीएआई ने यह सबसे बड़ा फैसला लिया है अब आधार यूजर्स को एड्रेस के अलावा बाकी की डिटेल्स के अपडेशन के लिए आधार सेंटर ही जाना होगा यूजर्स ऑनलाइन के माध्यम से केवल अपने एड्रेस में ही बदलाव कर पाएगा यूआईडीएआई ने इसकी जानकारी अपनी ऑफिशियल वेबसाइट पर दी है अगर यूजर्स अपनी बायोमेट्रिक अपने नाम अपने पता या मोबाइल नंबर या ईमेल ID में से किसी एक को बदलना चाहता है या फिर नया जोड़ना चाहता है तो यूजर्स को अपने नज़दीकी आधार केंद्र पर जाकर वहां पर यह इंफॉर्मेशन अपडेट करवानी होगी इस यूआईडीएआई के नए बदलाव से ग्राहकों को काफी सारी मुश्किलें बढ़ गई है|

Aadhaar-mobile linking:)UIDAI says wait until December 1, don’t give biometrics |

आपके आधार नंबर को बैंकिंग और दूरसंचार जैसी कई सेवाओं से जोड़ने के लिए आधार अनिवार्य हो गया है। आपके आधार को अपने मोबाइल ऑपरेटर से जोड़ने के लिए अब तक आपको अपने बायोमेट्रिक्स भी प्रदान करने की आवश्यकता थी । लेकिन यूआईडीएआई ने गुरुवार को घोषणा की कि 1 दिसंबर से, आपको टेलीकाम सेवा प्रदाताओं को अपनी फिंगरप्रिंट प्रदान किए बिना आधार के साथ अपना मोबाइल सिम सत्यापित करने का विकल्प दिया जायेगा ।

भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने गुरुवार को अपने आधिकारिक ट्विटर संचालन के माध्यम से ट्वीट किया कि मोबाइल सिम धारकों को अब मोबाइल फोन सत्यापन के लिए दूरसंचार के लिए बायोमैट्रिक्स प्रदान करने की आवश्यकता नहीं होगी। इसका मतलब यह है कि आप अपने मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी के द्वारा अपने घर से सत्यापन करने में सक्षम होंगे।

 

You May Also Like

About the Author: Digital Seva

Leave a Reply

%d bloggers like this: